Tuesday, March 21, 2017

योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने पर वैश्विक मीडिया में क्यों मची बौखलाहट?



🚩योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने पर वैश्विक मीडिया में क्यों मची बौखलाहट?

🚩जानिए सच...

🚩आपने देखा होगा कि जबसे उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ जी का नाम #मुख्यमंत्री के लिए सामने आया तबसे लेकर आज तक योगी जी पर विपरीत खबरें चलायी जा रही हैं..

🚩भारत की #प्रिंट और #इलेक्ट्रॉनिक #मीडिया में 24 घण्टें खबरें, डिबेट प्रसारित होने लगी कि योगी जी मुस्लिम विरोधी हैं, ईसाई विरोधी हैं, कट्टर हिन्दू हैं, योगी जी को मुख्यमंत्री पद का अनुभव नही है, बूचड़खाने के बन्द होने से करोड़ो का नुकसान होगा आदि आदि...।
Add caption

🚩आइये जानते है विदेशी मीडिया क्या कह रही है...

🚩अमेरिका के ‘#न्यूयॉर्क टाइम्स’ ने योगी की छवि को मुस्लिम विरोधी बताया ।

🚩जर्मनी की प्रसिद्ध रेडियो सेवा ‘दाइचे वेले’ ने अपनी #वेबसाइट पर इस खबर को सबसे बड़ी खबर के तौर पर प्रस्तुत किया और कहा कि एक गेरुआ वस्त्रधारी अब भारत के ऐसे राज्य की कमान संभालेगा जहां से होकर सत्ता का रास्ता केंद्र की तरफ जाता है। योगी जी को मुख्यमंत्री बनाना 2019 के चुनावों की तैयारी है। 

🚩नेपाल के प्रसिद्ध अखबार ‘#दि हिमालयन टाइम्स’ ने कहा कि एक महंत का सीएम के तौर पर आना, यह संकेत देता है कि मोदी भारत को हिंदुत्व की और ले जाने वाले हैं।

🚩‘#ऑस्ट्रेलियन ऑनलाइन’ ने योगी के मुख्यमंत्री बनने की खबर को ,मुख्य पृष्ठ पर स्थान देते हुए कहा है कि, अब विकास की बागडोर एक संत के हाथ में आ गई है। 

🚩पाकिस्तान ने योगी को #हिंदू कट्टरपंथी और मुस्लिम विरोधी नेता बताते हुए योगी के मुख्यमंत्री बनने की खबर को मुख्य पृष्ठ पर स्थान दिया है। 

🚩करांची से प्रकाशित प्रसिद्ध अखबार ‘#डॉन’ ने कहा है कि , भारत की सबसे बड़ी आबादी वाले राज्य में एक हिंदू कट्टरपंथी मुख्यमंत्री के शपथ लेने से भारत-पाक संबंधों में अड़चनें बढ़ेंगी ।

🚩इस्लामाबाद के ‘#द न्यूज’ ने भी यूपी के सीएम योगी को मुसलमानों के खिलाफ बयान देने वाला एक कट्टरपंथी महंत बताया है। 

🚩लाहौर से प्रकाशित अखबार ‘#डेली टाइम्स’ और बलूचिस्तान के ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ ने भी योगी को मुस्लिम विरोधी बताया।

🚩इस तरीके से देश-विदेश की #मीडिया योगी आदित्यनाथ के लिए #दिन-रात विपरीत खबरें बना रही है।

🚩आखिर ऐसा है क्या योगी आदित्यनाथ में जो इतनी ज्यादा विपरीत खबरें चलायी जा रही हैं?

🚩योगी आदित्यनाथ पहले से ही धर्मान्तरण विरोधी हैं, भ्रष्टाचार विरोधी हैं, लव जिहाद विरोधी हैं , #पशु हत्या विरोधी हैं , इस्लाम आतंक विरोधी हैं , विदेशी कंपनियों के विरोधी हैं, नक्सली व माओवादी हिंसा विहैकैं, अब योगी जी के मुख्यमंत्री बनने पर इन सब कृत्यों पर रोक लगेगी, इसलिए राष्ट्र विरोधी ताकतें मीडिया को फंडिग कर रही हैं, जिससे #मीडिया द्वारा योगी जी की छवि को धूमिल किया जाये, जिससे जनता उनका विरोध करे और उनको सत्ता से गिराया जाये जिससे राष्ट्र में सौहार्द बने ही नही और सनातन संस्कृति को आसानी से नष्ट करके देश को फिर से गुलाम बनाया जाये ।

🚩जाने योगी आदित्यनाथ की जीवनी

🚩ऐसा पहली बार नही है कि जब योगी जी के आने से  मीडिया में भूचाल आया हो, पहले भी जब भी कोई कट्टर #राष्ट्रभक्त देश की रक्षा के लिए विशेष पद पर आये हैं, उस समय राष्ट्र विरोधी ताकतें मीडिया से मिलकर उनका विरोध शुरू कर देती हैं, जैसे कि #लाल बहादुर शास्त्री की हत्या का आजतक पता ही नही चला, #मोरार जी देसाई की सरकार गिराई गयी , #अटल जी की सरकार गिराई गयी और अटल जी को #हॉस्पिटल में भर्ती करवाकर ऐसा कुछ खिला दिया गया कि आजतक उनकी स्मृति नही लौटी ।

🚩सत्ता में आने पर ही उनको  टारगेट किया जाता है ऐसा नही है जो भी देश की रक्षा की सेवा के लिये आगे आया है उनकी हत्या करवा दी जाती है या तो उनको कुछ खिलाकर पागल कर किया जाता है या तो उनको #मीडिया द्वारा बदनाम करवाकर जेल भेज दिया जाता है जैसे कि श्री राजीव दीक्षित की मृत्यु का आज तक पता नही चला, ओडिशा राज्य में धर्मान्तरण पर रोक लगाने वाले लक्ष्मणानंद की हत्या करवा दी गई, #जयन्द्रे स्वस्वती, स्वामी नित्यानंद, साध्वी प्रज्ञा, स्वामी असीमानंद, संत आसारामजी बापू, श्री नारायण साईं, धनंजय देसाई आदि कई हिन्दू #संस्कृति की रक्षा के लिये कार्य करने वाले व्यक्तित्व को जेल भेजा दिया गया  और कई #मंदिरों के पुजारी, विश्व हिंदू परिषद, आर.आर.एस के कार्यकर्ताओं की हत्यायें करवा दी गई हैं ।

🚩कहने का तात्पर्य सिर्फ इतना है कि जो भी #भारतीय #संस्कृति की रक्षा करने और पाश्चत्य संस्कृति का विरोध करता है उनको नष्ट करने का षड्यंत्र होता है इसलिए #हिंदुस्तानी सावधान रहें ।

🚩योगी जी के बारे में जो भी खबरें दिखाई जाती हैं वे सत्य नही हैं, योगी जी #मुसलमान विरोधी नही हैं गोरखपुर में मुलमान आज भी उनको चाहते है , योगी इस्लामिक आतंक के विरोधी हैं, बूचड़खाने बन्द होने से नुकसान नही होगा बल्कि पशु हत्या रोकने पर उनके दूध, गोबर आदि से और अधिक कमाई होगी ।

🚩योगी जी कुशल #कार्यकर्ता  हैं, वे उत्तर प्रदेश को अवश्य उत्तम प्रदेश बनाएंगे और राज्य में सौहार्द और समृद्धि आएगी।

🚩जरूरत सिर्फ इतनी है कि हम #राष्ट्र विरोधी ताकतों के षड्यंत्र और उनके द्वारा संचालित मीडिया से सावधान रहें ।

जय हिंद !!


🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻

🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk

🔺Facebook : https://goo.gl/immrEZ

🔺 Twitter : https://goo.gl/he8Dib

🔺 Instagram : https://goo.gl/PWhd2m

🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX

🔺Blogger : https://goo.gl/N4iSfr

🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG

🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ

   🚩🇮🇳🚩 आज़ाद भारत🚩🇮🇳🚩

No comments:

Post a Comment

हिंदी पर करें गर्व, अंग्रेजी के पीछे दौड़ना दुर्भाग्यपूर्ण: वेंकैया नायडू

हिंदी पर करें गर्व, अंग्रेजी के पीछे दौड़ना दुर्भाग्यपूर्ण*: वेंकैया नायडू जून,25, 2017 शनिवार को केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वें...