Sunday, March 19, 2017

सोशल मीडिया पर उठी फिर से जनता की आवाज...न्याय में विलंब क्यों ?

🚩सोशल मीडिया पर उठी फिर से जनता की आवाज...न्याय में विलंब क्यों ?

🚩आज दिनभर एक ट्रेंड टॉप में चल रहा था जिसके द्वारा हजारों लोग ट्वीट कर रहे थे कि न्याय में विलंब करना भी अन्याय ही है ।

🚩 #न्याय_में_विलंब_क्यों इस हैशटैग को लेकर कई यूजर्स का कहना था कि POCSO कानून का दुरूपयोग किया जा रहा है तो कई यूजर्स का कहना था कि अब जल्द इंसाफ चाहिए ।
Azaad Bharat - #न्याय_में_विलंब_क्यों 

🚩आपको बता दें कि ये ट्रेंड हिन्दू संत बापू आसारामजी के लिए था जो कि पिछले साढ़े तीन साल से जेल में हैं और अभी तक उनके ऊपर एक भी आरोप सिद्ध नही हुआ है लेकिन उनको साधारण जमानत तक नही मिल पा रही है इसलिए जनता ने आज भारी रोष प्रगट करते हुए 1 लाख 20 हजार से ज्यादा ट्वीटस किये हैं उनकी शीघ्र रिहाई के लिए ।
जिसके कारण आज ये #हैशटैग टॉप ट्रेंड में बना रहा ।

🚩आइये जानते है क्या कहते हैं यूजर्स...

🚩1. रूपेश कुमार का कहना है कि बहुत हुआ #POCSO Misuse से अत्याचार! षड़यंत्र कर भेजा निर्दोष #Asaram Bapu Ji को जेल !! #न्याय_में_विलंब_क्यों

🚩2- तोप सिंह ने लिखा कि राज्य महिला आयोग को नहीं मिली आसाराम बापूजी के खिलाफ कोई शिकायत.. #न्याय_में_विलंब_क्यों 

🚩3- आशीष लिखते हैं कि @BJP4India आरोपी तेजपाल को बेल, आरोपी लालू को बेल, फिर Asaram Bapu Ji को बेल क्यों नहीं ? 

🚩4- निर्मला पाण्डे लिखती हैं कि Asaram Bapu Ji के खिलाफ झूठा बयान देने के लिए पुलिस ने शिवा को बर्बरता से मारा ।

🚩5- ज्योति गंभीर का कहना है कि लड़की की सारी बातें काल्पनिक और बनावटी हैं, कोई भी आम आदमी भाप ले ऐसा #झूठा केस दर्ज किया गया! आखिर क्यों? 
#न्याय_में_विलंब_क्यों

🚩6- जयंत राठोड़ लिखते हैं कि मेडिकल रिपोर्ट= लड़की के साथ रेप या #छेड़-छाड़ नहीं हुई, फिर केस बापूजी पर क्यों? #न्याय_में_विलंब_क्यों 

🚩7- विशाखा लिखती हैं कि अगर आरोंपों में थोड़ी सी भी सच्चाई होती तो आज करोड़ों पढ़े-लिखे लोग Asaram Bapu Ji का समर्थन न करते!

🚩8- पंकज सोनी का कहना है कि 
विलंबित इंसाफ !
पक्षपाती इंसाफ !
क्या यह राष्ट्र का कानून है या दोष है ? #न्याय_में_विलंब_क्यों

🚩9 - अमित सोनी ने लिखा कि पुलिस ने कहा #FIR में बलात्कार का जिक्र नहीं,फिर Asaram Bapu Ji को बेल क्यों नही? 

🚩10- सरिता लिखती है कि #धर्मान्तरण करने वालों की गहरी साजिश का परिणाम- एक निर्दोष संत आसाराम बापू जी को 3 साल से जेल! 

🚩इस तरीके से आज दिनभर लोग ट्वीटस द्वारा संत आसारामजी बापू की शीघ्र रिहाई की मांग कर रहे थे कई हिन्दू संगठन भी इस ट्रेंड द्वारा जनता के साथ जुड़कर बापू की #शीघ्र रिहाई की मांग करते दिखे ।

🚩जैसा कि हम पहले भी आपको अवगत कराते आये हैं कि इस प्रकार का ट्रेंड कोई पहली बार नही बना है । ऐसे तो पहले भी उनके समर्थन में हजारों-लाखों ट्वीट देखी गई हैं । पिछले 2 से 3 साल के अंदर न जाने कितने टॉप ट्रेंड संत आसारामजी बापू की शीघ्र रिहाई के लिए बन चुके हैं पर इलेक्ट्रॉनिक व प्रिंट मीडिया ने कभी इन हजारों लोगों की आवाज को समाज के सामने नहीं रखा । जब भी संत आसारामजी बापू के लिए कुछ दिखाया तो सदा झूठ और बनावटी कहानियाँ बना-बना कर समाज को गुमराह करने की ही कोशिश की ।

🚩गौरतलब है कि बापू आसारामजी बिना अपराध सिद्ध हुए 43 महीनों से जोधपुर जेल में बंद हैं और उनकी रिहाई के लिए #सुब्रमण्यन स्वामी, सुरेश #चव्हाणके, टी राजा सिंह,संजय राऊत आदि कई #हिंदुत्वनिष्ठ हस्तियों के साथ-साथ सोशल मीडिया व ग्राउंड लेवल पर भी उनके समर्थन में हजारों रैलियां, धरने, प्रधानमंत्री व राष्ट्रपति के नाम से कलेक्टर को ज्ञापन देना,संत सम्मेलन आदि होते आ रहे हैं ।

🚩फिलहाल बापू #आसारामजी को कानून से अभी तक  कोई राहत नही मिली है इसलिए जनता अब #सोशल #मीडिया और #ग्राउंड लेवल पर सतत उनकी रिहाई की मांग कर रही है ।

No comments:

Post a Comment

हिंदी पर करें गर्व, अंग्रेजी के पीछे दौड़ना दुर्भाग्यपूर्ण: वेंकैया नायडू

हिंदी पर करें गर्व, अंग्रेजी के पीछे दौड़ना दुर्भाग्यपूर्ण*: वेंकैया नायडू जून,25, 2017 शनिवार को केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वें...