Thursday, April 27, 2017

धनंजय देसाई 2012 चतुश्रृंगी इलाके केस में निर्दोष बरी, बापू आसारामजी के समर्थक भड़के

 धनंजय देसाई 2012 चतुश्रृंगी इलाके केस में निर्दोष बरी, बापू आसारामजी के समर्थक भड़के

पुणे: जनवरी 2, 2012 को चतुश्रृंगी इलाके के जनवाड़ी में दो समुदायों के सदस्यों के बीच हिंसा के लिए हिरासत में लिए 35 वर्षीय हिंदू राष्ट्र सेना ( #एचआरएस) के प्रमुख धनंजय जयराम देसाई और 14 अन्य को जिला अदालत न्यायाधीश एस.जी #गिमेकर ने हत्या के प्रयास और दंगे मामले में बरी कर दिया।
 धनंजय देसाई 2012 चतुश्रृंगी इलाके केस में निर्दोष बरी, बापू आसारामजी के समर्थक भड़के
वकील मिलिंद पवार ने तर्क दिया था कि देसाई और अन्य सह-आरोपी के खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र, #हत्या के प्रयास और दंगों के आरोपों के कोई ठोस साक्ष्य नहीं है और देसाई को इस मामले में #पुलिस ने फंसाया था और वह अपराध के दृश्य पर मौजूद ही नहीं थे ।

कोर्ट को कोई #साक्ष्य और ठोस सबूत नही मिलने पर धनंजय देसाई को निर्दोष बरी कर दिया ।

 #फेसबुक पर 2 जून 2014 शिवाजी और बाला ठाकरे की #आपत्तिजनक पोस्ट किए जाने के बाद पुणे के हदपसर में भीड़ की तरफ से की गई मोहसिन शेख की हत्या के सिलसिले में हिंदू राष्ट्र सेना के स्वयंभू प्रमुख धनंजय देसाई को गिरफ्तार किया था । वर्तमान में इस हत्या के आरोप में येरवाड़ा (पुणे) जेल में धनंजय देसाई बंद है।

अभी जनता सवाल उठ रही है कि श्री धनंजय देसाई 2014 से बिना सबूत जेल में बन्द हैं उनके ऊपर एक भी #आरोप सिद्ध नही हुआ है और 2012 में चतुश्रृंगी इलाके केस में पुलिस द्वारा फंसाये जाने का सबूत भी मिल गया है और उनको #निर्दोष बरी कर दिया गया है फिर भी 2014 #मोहसिन #शेख के केस में जमानत तक नही मिलना बड़ा आश्चर्य है ।

ऐसे ही मालेगांव बम ब्लास्ट में खुलासा हो चुका है कि #पाकिस्तानियों ने बम ब्लास्ट किया था लेकिन फिर भी #कर्नल #पुरोहित को जमानत नही मिल पा रही है ।

2013 से बिना सबूत हिन्दू संत आसारामजी बापू भी जेल में कैद हैं जबकि उनको मेडिकल में क्लीन चिट भी मिल चुकी है और भाजपा नेता डॉ #सुब्रमण्यम स्वामी ने भी एफ.आई.आर पढ़ी और कहा कि पूरा केस फर्जी है षड्यंत्र के तहत संत आसारामजी बापू को फंसाया गया है ।

क्या इन हिन्दुत्वनिष्ठों को हिन्दू संस्कृति को उजागर करने की मिल रही है सजा ???


एक ओर रेप आरोपी तरुण तेजपाल को 3 महीने में, राजद विधायक #राजवल्लभ यादव को 6 महीने में और सपा मंत्री #गायत्री प्रजापति को 40 दिन में ही जमानत दे दी गई है जबकि उनके खिलाफ तो पुख्ता साक्ष्य भी हैं वहीं दूसरी ओर बापू #आसारामजी के ऊपर #षडयंत्र करने के सैकड़ों सबूत मिल चुके हैं । फिर भी नेता, पत्रकारों को जमानत और हिन्दू संतों को जेल क्यों..???

इन सवालो को लेकर बापू आसारामजी के समर्थक भड़के और ट्वीट करने लगे

आइये जानते है क्या लिख रहे थे यूजर?

विवेकानंद लिखते हैं कि आश्चर्य की बात है कि गैंगरेप के अपराधी को बेल मिल गयी ।
और आसारामजी बापू को नहीं जबकि उनके ऊपर यही केस लगा है।
 कैसा इंसाफ? https://twitter.com/vikkkuuu/status/857147415035617280?s=08


प्रेम हिंदुस्तानी @Swamy39 को टैग करके कहते हैं कि सर कृपया स्पष्ट करें कि क्यों हर बार आसारामजी बापू को बेल से वंचित रखा जाता है? https://twitter.com/NAMOBJPINDIA/status/857146421279117313?s=08


भविशा लिखती है कि
एक ओर अपराधियों की शीघ्र रिहाई और दूसरी ओर दोष सिद्धि के बिना निर्दोष संत को 3 वर्षों से अधिक समय तक जेल!
ये #पक्षपाती_न्यायव्यवस्था है !! https://twitter.com/BhavishaVerma31/status/857439589992194052


रवि लिखते हैं कि हर हर मोदी गाने वाले @PMOIndia के सुशासन काल में भी
#पक्षपाती_न्यायव्यवस्था बरकरार है ।https://twitter.com/05Raavi/status/857302712609886214

स्वाति लिखती हैं कि #पक्षपाती_न्यायव्यवस्था से स्पष्ट हो रहा है कि कानून 100% बिकाऊ है । https://twitter.com/Swati_penkar/status/857300860380078085


वासु डंगवाल ने लिखा कि हर नागरिक का बेल मिलना अधिकार होते हुये भी सिर्फ हिंदू संतो को बेल न देना यह #पक्षपाती_न्यायव्यवस्था नहीं क्या? https://twitter.com/vasu_dangwal/status/857553820519419910


प्रीति लिखती है कि लो कर लो बात,
"यहाँ तो कानून भी बिकता है साहब...!"
ऐसी #पक्षपाती_न्यायव्यवस्था की गुनहगार आजाद और निर्दोष संत कैद में !
https://twitter.com/preeti_jangid2/status/857553410794692609


सुहासिनी लिखती है कि #पक्षपाती_न्यायव्यवस्था के लिए भारत सरकार जिम्मेदार है जो संत #Asaram Bapu Ji की निर्दोषता को महत्व नहीं दे रही !
https://twitter.com/suhasin94096618/status/857549725595127808

अंजू ने लिखा कि पैसो की भूखी #Media तो मुँह खोल के बैठी ही है क्या अब न्यायालय को भी कुछ चाहिए ? #पक्षपाती_न्यायव्यवस्था
https://twitter.com/RanglaniAnju/status/857548887111999488

राजमल गोयल ने लिखा कि क्या यही है भारत की न्याय प्रक्रिया??? POCSO ACT में राजनेता गायत्री प्रजापति को बेल,तो निर्दोष संत को जेल क्यों? #पक्षपाती_न्यायव्यवस्था
https://twitter.com/RajmalGoyal/status/857548108506341377


?इस तरह से बापू आसारामजी के समर्थकों के साथ कई बुद्धिजीवी भी धनंजय देसाई, कर्नल पुरोहित , संत #आसारामजी बापू के लिए न्यायालय से गुहार लगाते दिखे ।

क्या सच में कानून समान है ???

सोचो हिन्दुस्तानी!!

🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻

🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk

🔺Facebook : https://goo.gl/immrEZ

🔺 Twitter : https://goo.gl/he8Dib

🔺 Instagram : https://goo.gl/PWhd2m

🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX

🔺Blogger : https://goo.gl/N4iSfr

🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG

🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ

   🚩🇮🇳🚩 आज़ाद भारत🚩🇮🇳🚩

No comments:

Post a Comment

ईसाई मिशनरियां दलित एवं गरीबों का धर्म परिवर्तन कराने का काम पुरजोश से कर रही हैं

ईसाई मिशनरियां दलित एवं गरीबों का धर्म परिवर्तन कराने का काम पुरजोश से कर रही हैं जून 23, 2017 विश्रामपुर (झारखंड) : भूत प्रेत स...