Thursday, August 31, 2017

करोड़ो लोग 31 अगस्त को ब्लेक डे के रूप में मना रहे है, कवि ने लिख दी कविता

🚩 *करोड़ो लोग 31 अगस्त को ब्लेक डे के रूप में मना रहे है, कवि ने लिख दी कविता*

अगस्त 31, 2017

🚩चार साल पहले #31 अगस्त 2013 को ठीक रात 12:00 बजे #सोनिया गांधी के #इशारे पर #हिन्दू संत बापू आसारामजी की #गिरफ्तारी हुई थी ।
31 AUGUST 2017 BLACKDAY, asaram bapu

🚩उसके बाद उनके करोड़ो अनुयायियों ने उनको न्याय दिलाने के लिए देश-विदेश में शांतिपूर्वक #रैलियां निकाली, #धरना प्रदर्शन किया, #संत सम्मेलन किये, ट्वीटर पर अनेकों #ट्रेंड चलाये ।
🚩दिग्गज #डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी ने भी केस संभाला लेकिन 4 साल होने पर भी उनको #जमानत #नहीं मिलने पर आखिर डॉ सुब्रमण्यम स्वामी को कहना पड़ा कि #केस पूरा #बोगस है, उनको निर्दोष बरी करना पड़ेगा, वसुंधरा के डरपोक होने के कारण उनको जमानत नही मिल रही है, इसलिए आज भी उनके करोड़ो अनुयायी #BlackDay_31अगस्त के रूप में मना रहे हैं ।

🚩4 साल से जमानत नहीं मिलने पर एक कवि ने उनकी जीवनी पर बनाई कविता,जिसकी पक्तियाँ कुछ इस प्रकार हैं...

🚩धरा वसुंधरा जब-जब हुई पाप से तितर-बितर।
तब-तब संतुलन के लिए,अवतरित हुए संत धरती पर॥

🚩कलयुग में भी जब पाप और अत्याचार गहराया।
हुए अवतरित आशारामजी बापू, माँ वसुंधरा का मन हर्षाया॥

🚩अद्भुत तेजस्वी बाल्यावस्था में, युवावस्था में मन वैरागी।
साधना में उच्च अवस्था, ईशप्राप्ति की तृष्णा जागी॥

🚩छोड़ा घर ज्ञान की खोज में, ईश्वर ने रस्ता दिखा दिया।
देख सच्ची तड़प याचक की, पूर्ण गुरू से मिला दिया॥

🚩मिले गुरू #लीलाशाह महाराज जी, हुई उनकी करूणा अपार।
मिटा अज्ञान हुआ निज ज्ञान, हो गया आत्मसाक्षात्कार॥

🚩अहमदाबाद साबरमती किनारे, करवाया आश्रम का निर्माण।
बन गया ये अध्यात्म का केंद्र, जिसका नहीं संभव बखान॥

🚩मानवता की निस्वार्थ सेवा को, बनाया जीवन का आधार।
#ऋषि प्रसाद, #लोक कल्याण सेतु द्वारा,किया ज्ञान का प्रचार॥

🚩अपने जीवन के 50 साल, समाज सेवा में लगा दिए।
बाटा आध्यात्मिक ज्ञान, लोगों के दुख दर्द मिटा दिए॥

🚩#योग और #आयुर्वेद को, नए आयाम पर पहुँचा दिया।
हिन्दुत्व की पताका का, लोहा पूरे विश्व से मनवा दिया॥

🚩#महिला #सशक्तिकरण के लिए,करवाया #महिला मंडल निर्माण।
गौशालाएं बनवाई गौरक्षा हेतु, गौमाता को दिया सम्मान।।

🚩संत का ह्दय करूणा का सागर, सबको ये बता दिया।
#गरीबों और #आदिवासियों की, #सेवा करके ये जता दिया॥

🚩प्राकृतिक #आपदा द्वारा,जब प्रकृति ने किया प्रहार।
#राहत बचाव #कार्यों द्वारा, किया लोगों का #उद्धार॥

🚩#धर्मांतरण के गौरखधंधे का,जब बापूजी को हुआ बोध।
#ईसाई मिशनरियों के इस #कुकर्म का,किया खुलकर #विरोध॥

🚩गरीब और #भटके हुए #लोग, #वापस #हिन्दू बनाए।
तब ये ईसाई मिशनरियों के, निशाने पर आए॥

🚩#31 अगस्त 2013 का दिन, जब मानवता हुई शर्मसार।
हिन्दू संस्कृति पर किया, षड़यंत्रकारियों ने बड़ा प्रहार॥

🚩महिला सशक्तिकरण करने वाले संत पर, बलात्कार का आरोप।
गिरे हुए है षड़यंत्रकारी, झेलेंगे ईश्वर का प्रकोप॥

🚩ना सबूत झूठे आरोप, POCSO कानून का गलत उपयोग।
करोड़ों साधक सत्संग से वंचित, झेल रहे गुरू वियोग॥

🚩81 वर्षीय संत को, #वृद्धावस्था में जेल की #प्रताड़ना।
#जमानत भी #नहीं मिल रही, लोगों में भी बनी गलत धारणा॥

🚩पर बापूजी ने तो जेल को ही, जेलाश्रम बना दिया।
जहाँ है संत वही है स्वर्ग, #षड़यंत्रकारियों को जता दिया॥

🚩देख षड़यंत्रकारियों एक दिन, हर जगह बापूजी का ही जलवा होगा।
हिन्दुत्व की होगी जय-जयकार, आसमान का रंग भी भगवा होगा॥ 
🚩- कवि सुरेन्द्र कुमार जी

🚩आज ट्वीटर पर भी उनके अनुयायी न्याय की मांग करते हुए #BlackDay_31अगस्त ट्रेंड चला रहे हैं ।

🚩आपको बता दें कि बापू आशारामजी को षड्यंत्र में फँसाये जाने के अनेकों प्रमाण सामने आये हैं –

🚩1) आरोप लगानेवाली लड़की की मेडिकल जाँच करनेवाली #डॉ. शैलेजा वर्मा ने अपने बयान में स्पष्ट रूप से कहा कि “लड़की के शरीर पर #रत्तीभर भी #खरोंच के निशान #नहीं थे और न ही प्रतिरोध के कोई निशान थे ।” 

🚩2) प्रसिद्ध न्यायविद् डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी ने केस अध्ययन कर बताया कि ‘‘लड़की के #फोन रिकॉर्ड्स से पता लगा कि जिस समय पर वह कहती है कि वह कुटिया में थी, उस समय वह वहाँ थी ही नहीं ! बापूजी पर #‘पॉक्सो एक्ट’ लगवाने हेतु एक #झूठा #सर्टिफिकेट निकाल के दिखा दिया गया कि वह 18 साल से कम उम्र की है । यह #केस तो तुरंत #रद्द होना चाहिए ।’’

🚩3) पुलिस द्वारा दर्ज आरोप-पत्र में मुख्य गवाह सुधा पटेल ने उसके नाम पर लिखे गये बयान को झूठा एवं मनगढ़ंत बताते हुए न्यायालय में कहा कि आज से पहले न मैं कभी जोधपुर आयी और न कभी कहीं बयान दिये थे । मुझे पता नहीं है कि पुलिसवालों ने मेरे हस्ताक्षर किस बात के करवाये थे ।

🚩4) बापू आशारामजी पर #आरोप लगानेवाली सूरत की #महिला ने गांधीनगर कोर्ट में एक अर्जी डालकर बताया कि उसने #बयान #डर और #भय के कारण दिया था । अब वह केस का सत्य #उजागर करना चाहती है ।

🚩इतने सबूत होने के बावजूद भी आज तक निर्दोष संत #आसारामजी बापू को #न्याय से #वंचित रखा गया।

🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻


🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk


🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt

🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf

🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX

🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG

🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ

No comments:

Post a Comment

बलात्कारी मौलवी को आठ साल की सजा, मीडिया में छाया मातम, साधी चुप्पी

सितम्बर 22, 2017   मीडिया हिन्दू साधु-संतों पर कोलाहल करती रही, वहाँ बलात्कारी मौलवी को आठ साल की सुनाई सजा, अगर यही मुद्दा किस...